कम्प्यूटर की सीमाएँ (LIMITATIONS OF COMPUTER)

कम्प्यूटर की सीमाएँ (LIMITATIONS OF COMPUTER)

  1. कम्प्यूटर में स्वयं सोचने व समझने की क्षमता नहीं होती हैं। व केवल दिए गए निर्देशों पर कार्य करता है। यदि दिए गए निर्देश‍ सही हैं तो परिणाम सही मिलते हैं अन्यथा नहीं।

  1. यदि किसी विषय पर चर्चा करनी हो तो इस स्थिति में कम्प्यूटर कार्य नहीं करते, जैसे मानव अपनी कल्पना शक्ति का उपयोग करते हैं।
  2. कम्प्यूटर पर प्रोग्रामिंग करना कठिन कार्य है। प्रोग्रामिंग के लिए एक अच्छे ज्ञाता का होना आवश्यक है।
  3. कम्प्यूटर तकनीक में बहुत जल्दी बदलाव होता है जिससे पुराने कम्प्यूटर जल्दी ही कम उपयोग के रह जाते हैं और उनकी कार्य क्षमता भी सीमित हो जाती है, इस कारण समय-समय पर कम्प्यूटर के हार्डवेयर एवं सॉफ्टवेयर में बदलाव (Upgrade) करने की आवश्यकता पड़ती है, जो कि बहुत महंगा पड़ता है।
  4. जब कम्प्यूटर में डाटा व महत्त्वपूर्ण सूचनाएं संग्रहित की जाती है तो उनकी सुरक्षा की आवश्यकता पड़ती है अन्यथा कम्प्यूटर वायरस के द्वारा किसी भी क्षण महत्त्वपूर्ण सूचनाओं को क्षति पहुंचाई जा सकती है।
  5. समय साथ बैंकों, व्यवसाय आदि में कम्प्यूटर द्वारा धोखाधड़ी के केस भी होते हैं।

Advantage of computer– click this

types of keyboard– click this

types of mouse– click this

Leave a comment