कम्प्यूटर के अनुप्रयोग (APPLICATIONS OF COMPUTER)

कम्प्यूटर के अनुप्रयोग (APPLICATIONS OF COMPUTER)-

कम्प्यूटर की विभिन्न क्षेत्रों में उपयोगिता निम्न प्रकार हैं-

1. शिक्षा में (In Education) –

कम्प्यूटर का शिक्षा में बहुत योगदान है। विद्यालयों में छोटी कक्षाओं से ही छात्रों को कम्प्यूटर का ज्ञान दिया जाने लगा है। बड़ी कक्षाओं के छात्र कम्प्यूटर का उपयोग करके विभिन्न विषय पढ़ सकते हैं तथा अपनी समस्याओं का हल कम्प्यूटर से पा सकते हैं।

2. व्यवसाय में (In Business) –

कम्प्यूटर का उपयोग व्यापार में बहुतायत में किया जा रहा है, ग्राहकों के पते, कच्चे माल का रिकॉर्ड, स्टाफ की जानकारी, कर्मचारियों के वेतन, बिल आदि का कार्य कम्प्यूटर से किया जा रहा है जिससे समय पर सूचना मिलने के साथ-साथ कार्य भी तीव्र गति से होने लगा है। इससे व्यापार में लाभ हानि की जानकारी, भण्डार के रिकॉर्ड की जानकारी भी शीघ्र प्राप्त हो जाती है।

3. चिकित्सा में (In Medical) –

कम्प्यूटर के बिना आज सूक्ष्म चिकित्सा सम्भव नहीं है क्योंकि समस्त चिकित्सीय परीक्षण कम्प्यूटर द्वारा किए जाते हैं चाहे वह कोई पैथोलॉजी की जांच हो या ECG, X-Ray हो अथवा जीव विज्ञान से संबंधित खोज, सभी कम्प्यूटर पर निर्भर है।

4. मनोरंजन में (In Entertainment ) –

कम्प्यूटर का मनोरंजन के क्षेत्र में भी बहुत उपयोग किया जा रहा है। कम्प्यूटर पर मनोरंजन के लिए विभिन्न सोशल नेटवर्किंग साइट का उपयोग किया जाता है। कम्प्यूटर द्वारा एडीटिंग (Editing) की जाती है और संगीत में इसका उपयोग रिकॉर्डिंग (Recording) तथा धुनें तैयार करने में किया जाता है।

5. शोध कार्यों में (In Research Work) –

कम्प्यूटर का प्रयोग वायुयान डिजाइनिंग के विकास, मिसाइल के विकास, मौसम की भविष्यवाणी, खगोलशास्त्रीय शोध में एवं उपग्रह डिजाइनिंग आदि में किया जा रहा है।

6. ज्योतिष में (In Astrology) –

ज्योतिष गणनाओं में कम्प्यूटर बहुत सहायक रहा है, ज्योतिष के लिए जिन गणनाओं की आवश्यकता होती है वह कम्प्यूटर द्वारा कुछ क्षणों में कर दी जाती है जैसे- जोड़ों (couples) का मिलान, जन्मपत्री बनाना आदि।

7. इंटरनेट में (In Internet) –

कम्प्यूटर का वर्तमान में संचार व्यवस्था में भी उपयोग किया जा रहा है। इंटरनेट का उपयोग कर किसी भी विषय से संबंधित सूचना को खोजा जा सकता है। ई-मेल (E-mail) के द्वारा पत्रों को एक कम्प्यूटर से विश्व के किसी भी दूसरे कम्प्यूटर पर भेजा जा सकता है। कम्प्यूटर वेब पेज तैयार करके तथा इनमें विभिन्न सूचनाएं प्रदान करके इंटरनेट द्वारा प्रसारित कर दिए जाते हैं।

8. बैंकों में (In Banks)-

बैंकों में हो रहे सभी वित्तीय लेन-देन की गणना, ऋण व उसके ब्याज की गणनाएं आदि कम्प्यूटर द्वारा की जाती है। बैंक के सभी वित्तीय रिकॉर्ड कम्प्यूटर की मेमोरी इकाई में सुरक्षित रखे जाते हैं। ATM के माध्यम से खाताधारी अकाउंट (Account) की जानकारी व पैसों का लेन-देन किसी भी शाखा से कर सकता है।

9. यात्रा में (In Travelling) –

आजकल एयरलाइनों, रोडवेज व रेलवे में कम्प्यूटर का प्रयोग बहुतायत में किया जा रहा है। यात्री अपना टिकट किसी भी स्टेशन से किसी भी स्टेशन का ले सकता है। ट्रेन / फ्लाइट संबंधी जानकारी ऑनलाइन (Online) उपलब्ध होती है।

10. ऑफिसों में (In Offices) –

आजकल कार्यालय सरकारी हो या गैर सरकारी सभी में कम्प्यूटर आवश्यक हो गया है क्योंकि कम्प्यूटर के प्रयोग से कोई भी डॉक्यूमेन्ट (Document) तुरन्त बनकर तैयार हो जाता है। एक बार डॉक्यूमेन्ट (Document) तैयार होने के बाद इसे सुरक्षित (Save) कर दिया जाता है एवं कभी भी आवश्यकता पड़ने पर इसे पुनः टाइप (Type) करने की आवश्यकता नहीं पड़ती। दस्तावेज त्रुटि रहित एवं सुन्दर भी बनाया जा सकता है। वेतन बिल, टेन्डर का कार्य, टेबल प्रिंटिंग एवं डाटाबेस के समस्त कार्य कम्प्यूटर से किए जाने लगे है जिससे समय की भी बचत होती है।

कंप्यूटर क्या है?

कीबोर्ड कितने प्रकार के होते है ?

Leave a comment